शनिवार, अप्रैल 13, 2024
Google search engine
होमNEWSमदन दिलावर के बयान पर डोटासरा का पलटवार कहा जेल तो जाएंगे

मदन दिलावर के बयान पर डोटासरा का पलटवार कहा जेल तो जाएंगे

लोकसभा चुनाव 2024 नजदीक है वहीं बाड़मेर है मैं कल डोटासरा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने शिक्षा मंत्री मदन दिलावर के बयान पर पलटवार करते हुए कहा हम तो जेल जाएंगे लेकिन दिलावर जेल में होंगे और हम उनसे मिलने जेल जाएंगे.

बुधवार को कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा बाड़मेर पहुंचे वहां एक सभा को संबोधित करते हुए डोटासरा ने बीजेपी पर जमकर निशाना सदा साथ ही गोविंद सिंह डोटासरा ने शिक्षा मंत्री मदन दिलावर के बयान पर पलटवार किया है.

दरअसल मंगलवार को शिक्षा मंत्री मदन दिलावर ने टोंक में एक जनसभा में कहा था कि पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा भी जेल जाएंगे यह दोनों नेता जेल जाने से बचने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन मुझे नहीं लगता कि वे बच पाएंगे दिलावर के इस बयान से राजस्थान में एक बार फिर से सियासत गरमागई है.

कल बुधवार को बाड़मेर में पीसीसी चीफ डोटासरा ने मदन दिलावर पर पलटवार करते हुए कहा कि बीजेपी में आरएसएस का नायाब हीरा मदन दिलावर है जो की शिक्षा मंत्री है डोटासरा ने कहा कि वह कह रहे हैं कि अशोक गहलोत और गोविंद सिंह डोटासरा जेल जाएंगे.

डोटासरा ने कहा कि हां जेल तो जाएंगे लेकिन दिलावर जेल में होंगे और हम उनसे मिलने जेल जाएंगे डोटासरा ने मदन दिलावर पतंजलि करते हुए कहा कि मिस्टर दिलावर साहब आपकी मां ने दूध पिलाया तो गोविंद सिंह डोटासरा के गिरवान की तरफ झांक कर देखो उन्होंने कहा कि मैं किस का बेटा हूं मैं अध्यापक का बेटा हूं मैं जिंदगी में कुछ गलत काम नहीं किया है.

डोटासरा ने कहा कि आप जैसे रस के लोग बोलते रहेंगे लेकिन डोटासरा को कोई फर्क नहीं पड़ने वाला गोविंद सिंह डोटासरा ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि 10 साल में एक भी काम नहीं हुआ केवल भाषण दिए इस दौरान डोटासरा ने मोदी सरकार और भजनलाल सरकार पर जमकर जुबानी हमला बोला.

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

Discover more from Kailash Bishnoi

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading