एक साथ दो पश्चिमी विक्षोभ टकराने से हो सकती हैं भारी बारिश, देश के इन इलाकों में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय

देश में एक साथ दो पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है और दोनों एक दूसरे से टकराने की संभावना है जिससे कई इलाकों में हल्की से भारी बारिश होने की संभावना है देश के इन इलाकों में एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हैं उसके बारे में हम आपसे आज पूरी इस पोस्ट के माध्यम से चर्चा करेंगे और किन इलाकों में आने वाले दिनों में पश्चिमी विक्षोभ से बारिश हो सकती है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

पहाड़ में एक्टिव हैं पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय

मौसम विभाग के मुताबिक एक पश्चिमी विक्षोभ पहाड़ों में सक्रिय है जिस देश के पहाड़ी इलाके जम्मू कश्मीर हिमाचल प्रदेश उत्तराखंड और उससे लगे हुए राज्य जहां उत्तर प्रदेश पंजाब हरियाणा राजस्थान दिल्ली मध्य प्रदेश बिहार झारखंड पश्चिम बंगाल आदि राज्यों में पश्चिमी विक्षोभ से बारिश होने की संभावना है यह पश्चिमी विक्षों पहाड़ों में एक्टिव है और पहाड़ी इलाकों में बारिश के साथ बर्फबारी होने की संभावना है।

उत्तराखंड में 13 फरवरी जबकि पंजाब, हरियाणा, पश्चिमी राजस्थान में 12 फरवरी को हल्की बारिश देखी जा सकती है। यही नहीं एक अन्य पश्चिमी विक्षोभ 17 और 18 फरवरी के दौरान पश्चिमी हिमालय क्षेत्र पर दस्तक देगा। इसकी वजह से ऊंचाई वाले इलाकों में छिटपुट बारिश या बर्फबारी होने की संभावना है।

मौसम विभाग का कहना है कि इन पश्चिमी विक्षोभों के कारण दिल्ली एनसीआर में 15 फरवरी तक मौसम खराब रहेगा। 15 फरवरी तक दिल्ली एनसीआर में बादलों की आवाजाही देखी जाएगी। इस दौरान न्यूनतम तापमान आठ से 10 डिग्री सेल्सियस और हवा की गति चार से छह किलोमीटर प्रति घंटे तक की रहने का अनुमान है।

मौसम विभाग का अनुमान है कि एक और पश्चिमी विक्षोभ का असर दिल्ली के मौसम पर देखने को मिलेगा। इसके चलते मंगलवार और बुधवार को दिल्ली में कहीं-कहीं हल्की बूंदाबांदी हो सकती है। दिन में बादल छाए रह सकते हैं। सुबह के समय कहीं-कहीं हल्के से मध्यम स्तर तक का कोहरा देखने को मिल सकता है। इसके चलते सुबह और रात के तापमान में अभी ठंड का असर बना रहेगा।

इस बीच दिल्ली में ठंड बढ़ गई है। दिल्ली में सोमवार को न्यूनतम तापमान 7.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दिल्ली के ज्यादातर हिस्सों में सोमवार की सुबह हल्का कोहरा छाया रहा। लेकिन, दिन चढ़ने के साथ ही धूप निकल आई। हालांकि, बाद में हल्के बादलों के छाने से तापमान में हल्की ठंडक का असर बढ़ा। दिल्ली की मानक वेधशाला सफदरजंग में अधिकतम तापमान 24.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से एक डिग्री ज्यादा है। जबकि, न्यूनतम तापमान सात डिग्री सेल्सियस रहा।

दूसरा पश्चिमी विक्षोभ पाकिस्तान के सिंध प्रांत में सक्रिय

दूसरा पश्चिमी विक्षोभ पाकिस्तान के सिंध प्रांत और अफगानिस्तान के ऊपर सक्रिय है जो कि भारत में राजस्थान की जैसलमेर बाड़मेर बीकानेर गंगानगर पंजाब हिमाचल प्रदेश और जम्मू कश्मीर में आने की संभावना है जिससे आने वाली 15 16 और 17 फरवरी को पहाड़ों में बर्फबारी वहीं मैदानी इलाकों में हल्की बारिश होने की संभावना है।

Leave a Comment

Discover more from Kailash Bishnoi

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading