20 फरवरी 2024 के लिए मार्केट आउटलुक

0
25
मार्केट आउटलुक
मार्केट आउटलुक

20 फरवरी 2024 के लिए मार्केट आउटलुक: 20 फरवरी 2024 को भारतीय शेयर बाजार मिश्रित रहने की संभावना है। कुछ प्रमुख कारक जो बाजार को प्रभावित कर सकते हैं, शेयर मार्केट में तेजी रहने की संभावना हैं.

20 फरवरी 2024 के लिए मार्केट आउटलुक:

वैश्विक बाजार:

  • अमेरिकी बाजार:
    • S&P 500: 4,000 अंक के स्तर के आसपास, थोड़ी गिरावट की संभावना
    • NASDAQ: 12,000 अंक के स्तर के आसपास, थोड़ी गिरावट की संभावना
  • यूरोपीय बाजार:
    • Stoxx 600: 450 अंक के स्तर के आसपास, थोड़ी गिरावट की संभावना
  • एशियाई बाजार:
    • Nikkei 225: 28,000 अंक के स्तर के आसपास, थोड़ी गिरावट की संभावना
    • Hang Seng: 21,000 अंक के स्तर के आसपास, थोड़ी गिरावट की संभावना

भारतीय बाजार:

  • Nifty 50: 18,000 अंक के स्तर के आसपास, थोड़ी गिरावट की संभावना
  • Sensex: 60,000 अंक के स्तर के आसपास, थोड़ी गिरावट की संभावना

कारण:

  • अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में वृद्धि की संभावना
  • वैश्विक स्तर पर मुद्रास्फीति का दबाव
  • यूक्रेन में युद्ध
20 फरवरी 2024 के लिए मार्केट आउटलुक
20 फरवरी 2024 के लिए मार्केट आउटलुक

सेक्टोरल आउटलुक:

  • IT: थोड़ी गिरावट की संभावना
  • FMCG: थोड़ी गिरावट की संभावना
  • Pharma: थोड़ी तेजी की संभावना
  • Metal: थोड़ी तेजी की संभावना

महत्वपूर्ण घटनाएं:

  • अमेरिकी फेडरल रिजर्व की बैठक (21-22 फरवरी)
  • यूरोपीय सेंट्रल बैंक की बैठक (16 फरवरी)
  • चीन का GDP डेटा (17 फरवरी)

निष्कर्ष:

20 फरवरी 2024 को वैश्विक और भारतीय बाजारों में थोड़ी गिरावट देखने की संभावना है। अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में वृद्धि, वैश्विक मुद्रास्फीति और यूक्रेन में युद्ध बाजारों पर दबाव डाल सकते हैं। हालांकि, कुछ सेक्टरों में, जैसे कि Pharma और Metal, थोड़ी तेजी देखने की संभावना है। निवेशकों को बाजार में उतार-चढ़ाव के लिए तैयार रहना चाहिए और अपनी जोखिम क्षमता के अनुसार निवेश करना चाहिए।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि यह केवल एक अनुमान है और वास्तविक परिणाम भिन्न हो सकते हैं।

सकारात्मक कारक:

  • स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (SAIL): SAIL ने 20 फरवरी 2024 को अंतरिम लाभांश के लिए रिकॉर्ड डेट घोषित की है। इससे SAIL के शेयरों में तेजी आ सकती है।
  • विदेशी संस्थागत निवेशकों (FII) द्वारा खरीदारी: FII ने पिछले कुछ दिनों में भारतीय बाजारों में भारी खरीदारी की है। यह बाजार को ऊपर उठाने में मदद कर सकता है।
  • अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये की मजबूती: रुपये में मजबूती विदेशी निवेशकों के लिए भारतीय शेयर बाजारों को अधिक आकर्षक बना सकती है।

नकारात्मक कारक:

  • अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में वृद्धि: अमेरिकी फेडरल रिजर्व ब्याज दरों में वृद्धि करने की योजना बना रहा है। इससे भारतीय शेयर बाजारों पर दबाव पड़ सकता है।
  • महंगाई: भारत में मुद्रास्फीति अभी भी उच्च स्तर पर है। इससे बाजार की धारणा पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।
  • अंतरराष्ट्रीय बाजारों में अस्थिरता: वैश्विक बाजारों में अस्थिरता भारतीय शेयर बाजारों को भी प्रभावित कर सकती है।

कुल मिलाकर, 20 फरवरी 2024 को भारतीय शेयर बाजार मिश्रित रहने की संभावना है। निवेशकों को सलाह दी जाती है कि वे बाजार में प्रवेश करने से पहले सावधानी बरतें।

कुछ महत्वपूर्ण बातें:

  • SAIL के शेयरों में तेजी आने की संभावना है।
  • FII द्वारा खरीदारी बाजार को ऊपर उठाने में मदद कर सकती है।
  • अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में वृद्धि बाजार पर दबाव डाल सकती है।
  • निवेशकों को सलाह दी जाती है कि वे बाजार में प्रवेश करने से पहले सावधानी बरतें।

यह भी ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि यह केवल एक अनुमान है और वास्तविक बाजार प्रदर्शन भिन्न हो सकता है।

Also Read – सेंसेक्स शेयर मार्केट 19 फरवरी 2024, बाजार की उठापटक के बाद सुधार

Also Read – Old coin sell 2 rupee in india, लखपति बनने का सबसे आसान तरीका

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें