शुक्रवार, अप्रैल 12, 2024
Google search engine
होमNEWSRajasthan Mousan - जैसलमेर सहित इन इलाको में हुई बारिश , इन...

Rajasthan Mousan – जैसलमेर सहित इन इलाको में हुई बारिश , इन जिलो में अलर्ट जारी यहाँ देखे पूरी खबर

Rajasthan Mousan राजस्थान में देर रात से वेस्टर्न डिस्टर्बेंस का प्रभाव शुरू हो गया। सरहदी जिले जैसलमेर, बाड़मेर, श्रीगंगानगर, जोधपुर के अलावा चूरू, हनुमानगढ़ में बादल छाने शुरू हो गए हैं। जैसलमेर और श्रीगंगानगर में हल्की बूंदाबांदी भी हुई। इसके साथ ही हवा भी चलनी शुरू हो गई। संभावना है कि दोपहर बाद इन जिलों में तेज बारिश का दौर शुरू हो जाएगा।

मौसम केंद्र नई दिल्ली ने इस सिस्टम को इस सीजन का सबसे स्ट्रॉन्ग सिस्टम माना है, जिसे देखते हुए 10 राज्यों को ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। राजस्थान में इस सिस्टम के असर से 75 फीसदी एरिया में बारिश (कहीं-कहीं तेज बारिश के साथ जबरदस्त ओलावृष्टि) होने की आशंका जताई है।

आज बीकानेर, चूरू, झुंझुनूं, हनुमानगढ़, जैसलेमर और श्रीगंगानगर में ऑरेंज अलर्ट है। 2 मार्च को करौली, झुंझुनूं, धौलपुर, दौसा, भरतपुर और अलवर में ऑरेंज अलर्ट है।

सवाई माधोपुर में एक बार फिर मौसम में बदलाव देखा गया। शुक्रवार सुबह यहां आसमान में बादल छाए रहे। इसी के साथ ही ठंडी हवा का दौर जारी रहा।सवाई माधोपुर में एक बार फिर मौसम में बदलाव देखा गया। शुक्रवार सुबह यहां आसमान में बादल छाए रहे। इसी के साथ ही ठंडी हवा का दौर जारी रहा।श्रीगंगानगर में सुबह से बादल छाए हुए हैं।श्रीगंगानगर में सुबह से बादल छाए हुए हैं।

विशेषज्ञों के मुताबिक, इस सिस्टम का असर दोपहर बाद या देर शाम तक जयपुर और अजमेर संभाग के साथ जोधपुर संभाग के दूसरे जिलों में भी देखने को मिलेगा। जयपुर, अजमेर, नागौर, सीकर, झुंझुनूं, अलवर के अलावा पाली, बाड़मेर के जिलों में भी शाम को बादल छाने के साथ कहीं-कहीं बारिश शुरू हो सकती है।

जैसलमेर में आज सुबह से बादल छाए हुए हैं।जैसलमेर में आज सुबह से बादल छाए हुए हैं।देर रात श्रीगंगानगर, बीकानेर और जैसलमेर में 25 से 30KM प्रति घंटा की स्पीड से हवा चलनी शुरू हो गई। जैसलमेर में हल्की बूंदाबांदी भी हुई। इसके साथ बादल छा गए। यहां कुछ देर बाद मेघ गर्जना के साथ तेज बारिश का दौर शुरू हो सकता है।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

Discover more from Kailash Bishnoi

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading