रविवार, अप्रैल 14, 2024
Google search engine
होमNEWSYouTube देखकर नोट छापने की ट्रेनिंग, नकली नोट छापते छह लोग गिरफ्तार,...

YouTube देखकर नोट छापने की ट्रेनिंग, नकली नोट छापते छह लोग गिरफ्तार, 24 लाख रुपए बरामद

YouTube पर वीडियो को देख कर नकली नोट छापने का कार्य करने लगे नकली नोट छापते छह लोग गिरफ्तार 24 लाख रुपए उनके पास बरामद हुए हैं क्या है पूरा मामला कहां की है यह खबर हम आपको इसके बारे में विस्तार से जानकारी देना चाहते हैं।

पुणे के पिंपरी-चिंचवड़ पुलिस ने 500 रुपये के नकली नोट छापने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ किया है. पुलिस ने इस गिरोह के 6 लोगों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों के पास से 500 रुपए के 540 नोट बरामद किए गए. साथ ही 24 लाख रुपए के नकली नोट छापे गए थे और काटना बाकी रह गया था. इससे पहले पिंपरी-चिंचवड़ पुलिस ने इन गिरोहों का भंडाफोड़ कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के मुताबिक, आरोपी यूट्यूब देखकर नोट छापने की ट्रेनिंग ली थी. मामले में गिरफ्तार आरोपियों की पहचान रितिक खडसे, सूरज यादव, आकाश धांगेकर, सुयोग सालुंखे, तेजस बल्लाल और प्रणव गवाने के रूप में हुई है. रितिक खडसे आईटी में डिप्लोमा है. सूरज यादव ड्राइवर है. सभी आरोपी एक दूसरे के दोस्त हैं और वे बिजनेस करना चाहते थे।

यूट्यूब देखकर नोट्स बनाना सीखा

इसलिए वह पुणे से एक प्रिंटिंग मशीन ले आए. उन्होंने सबसे पहले शादी के कार्ड और अन्य प्रिंटिंग का काम करने का निर्णय लिया. फिर दिग्घी में कारोबार शुरू किया, लेकिन कारोबार तेजी से नहीं चला और दुकान का किराया नहीं होने के कारण सूरज यादव को नकली नोट छापकर पैसा कमाने का ख्याल आया. इसके बाद सूरज ने यूट्यूब देखकर नोट्स बनाना सीखा और नोट बनाने का कागज चीन से ऑनलाइन ऑर्डर किया।

बरामद नोट.24 लाख रुपये के तैयार नोट बरामद

फिर सभी आरोपी नकली नोट छापने लगे. उन्होंने एक शख्स से संपर्क किया और एक लाख के नकली नोट 40 हजार रुपये में बदलने का सौदा हुआ. इसकी खबर पिंपरी-चिंचवड़ पुलिस को लगी. तभी नोट देने गए आरोपी को पुलिस ने पकड़ लिया. पुलिस ने कुल 540 नकली नोट जब्त किए हैं. इसके अलावा नोट बनाने के लिए एक हजार कागजों की जरूरत थी और 24 लाख रुपेय के तैयार नोट ( जो अभी काटे जाने बाकी थे) उन्हें भी बरामद कर लिया।

मामले में डीसीपी ने कही ये बात

डीसीपी  बापू बांगर ने बताया कि पिंपरी-चिंचवड़ पुलिस ने 500 रुपये के नकली नोट छापने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ किया है. इस गिरोह ने नोट छापने के लिए जरूरी कागज चीन से आयात किया था. आरोपियों के पास से 500 रुपए के 540 नोट बरामद किए गए और 24 लाख रुपए के नकली नोट छापे गए थे, जो कुछ बचा था वह काटना था. पुलिस ने उन्हें भी जब्त कर लिया है।

यह भी पढें – सिधु मूसेवाला की मां 58 साल की आयु में फिर से गर्भवती, मार्च में बच्चा होने की प्रतीक्षा है

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

Discover more from Kailash Bishnoi

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading